तुरई चटनी रेसिपी

This post is also available in: English

तुरई चटनी, दक्षिण भारत में ज्यादातर बनता है। इसे इडली/डोसा/चावल के साथ खाया जाता है। तुरई के कई पौष्टिक लाभ है। डायबिटीज के मरीज़ों के लिए यह काफी फायदेमंद है। जो लोग अपना वज़न कम करना चाहते है उनके लिए भी यह अच्छा है।

0 from 0 votes
Print

तुरई चटनी

तुरई चटनी, दक्षिण भारत में ज्यादातर बनता है। इसे इडली/डोसा/चावल के साथ खाया जाता है। तुरई के कई पौष्टिक लाभ है। डायबिटीज के मरीज़ों के लिए यह काफी फायदेमंद है। जो लोग अपना वज़न कम करना चाहते है उनके लिए भी यह अच्छा है। 

Course condiments
Cuisine South Indian
Prep Time 5 minutes
Cook Time 20 minutes
Total Time 25 minutes
Servings 4
Author गायत्री विवेक

Ingredients

  • तुरई छीलकर कटे हुए
  • टीस्पून उरद दाल
  • टीस्पून ज़ीरा
  • १/२ टीस्पून हींग
  • टीस्पून इमली पेस्ट या इमली पानी
  • हरी मिर्च
  • ४-५ कड़ी पत्ता
  • नमक स्वाद अनुसार
  • टीस्पून तेल

तड़के के लिए

  • टीस्पून तेल
  • टीस्पून राइ
  • टीस्पून उरद दाल
  • लाल मिर्च टुकड़े
  • ४-५ कड़ी पत्ता

Instructions

  1. सारे सामग्री तैयार करे। एक कड़ाई में १/२ टीस्पून तेल गरम करें। 

  2. ज़ीरा और उरद दाल डालें। दाल का रंग हल्का भूरा होने पर, हींग, कड़ी पत्ता और हरी मिर्च मिलादें। 

  3. फ्राई करने के बाद, कड़ाई से निकाल कर अलग रखें। 

  4. उसी कड़ाई में १/२ टीस्पून तेल डालें और तुरई के टुकड़ों को फ्राई करें। छिलका पूरी तरह से निकालना मुश्किल है। जितना हो सके निकाल लीजिये। 

  5. तुरई का सारा पानी निकल ने तक फ्राई करें। १० - १५ मिनट लग सकते हैं। 

  6. इसे ठंडा होने दें।  फिर तुरई और स्टेप २ के सामग्री को एक साथ मिक्सी में पीसें।  इमली पेस्ट/पानी और नमक मिलाकर फिर से पीसें। 

  7. अपने स्वाद अनुसार इमली पेस्ट और हरी मिर्च कम या ज्यादा कर सकते हैं। 

  8. चटनी को एक बाउल में निकाल लें। 

  9. छोटे कड़ाई में १ टीस्पून तेल लें। राइ डालें, फिर उरद दाल, कड़ी पत्ता और लाल मिर्च डालें। 

  10. इस मिश्रण को चटनी के ऊपर डालदें। 

  11. इडली, डोसा या चावल के साथ परोसें। 

 

Tags:,

Add Comment

Recipe Rating